छत्तीसगढडिंडौरीब्रेकिंग न्यूज़मध्य प्रदेशराज्यस्वास्थ्य

26 वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में वनग्राम चाड़ा में आयोजित हुआ विशाल स्वास्थ्य शिविर

 

डिंडौरी | कलेक्टर विकास मिश्रा के निर्देशन पर डिंडोरी के स्थापना दिवस के अवसर पर स्वस्थ डिंडोरी की संकल्पना को पुरा करने उद्देश्य से आज वनग्राम चाड़ा में विशाल स्वास्थ्य शिविर आयोजित किया गया।  स्वास्थ्य शिविर के सफलतापूर्वक आयोजन में अरबिंदो महाविद्यालय इंदौर की भूमिका प्रमुख रही, इस शिविर में अरविंदो महाविद्यालय इंदौर की 45 सदस्यीय टीम ने लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करायी।     रविवार को सुबह 9 बजे से शाम 3:00 बजे तक स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें समनापुर, बजाग, करंजिया से आने वाला आने वाले हितग्राहियों को विकासखंडवार दो-दो काउंटर अलग-अलग स्थान पर लगाए गए, जिससे अपने अपने विकासखंड के आधार पर पंजीयन कर पाना आसान हुआ, इस शिविर का आयोजन  बैगाचक क्षेत्र एवं दूरस्थ ग्रामीणों को स्वास्थ्य सुविधाएं देने की उद्देश्य से किया गया, जो स्वास्थ्य सेवा पाने में असमर्थ है, शिविर में  कैंसर, स्तन कैंसर, मुंह का कैंसर, हृदय रोग, मूकबधिर, कटे फटे होठ सहित अन्य समस्त गंभीर बीमारी और महिलाओं से संबंधित बीमारियों की नि:शुल्क  जाँच और उपचार किया गया।

कलेक्टर विकास मिश्रा ने इस अवसर पर बताया कि जिला प्रशासन की और से स्वास्थ्य सेवा को अंतिम छोर तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है, इसलिए प्रत्येक शनिवार को रेवा कैंप आयोजित किये जाते है, उन्होंने कहा कि इस प्रकार के विशाल स्वास्थ्य कैंप के आयोजन के लिए जिला प्रशासन अरबिंदो मेडिकल कॉलेज एवं अन्य मेडिकल कॉलेज से संपर्क कर रहा है जिससे गंभीर बिमारियों को समय पर पहचान कर लोगों को उपचारित किया जा सके, कलेक्टर श्री मिश्रा ने कहा कि ऐसे विशाल स्वास्थ्य शिविर का आयोजन समय समय पर आगे भी किया जाएगा साथ ही कैंप में आये समस्त रोगियों के फॉलोअप की व्यवस्था की जा रही है, जिससे एक स्वस्थ और निरोगी डिंडोरी की संकल्पना को पुरा किया जा सकेगा।

 

शिविर का आयोजन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चाड़ा में किया गया, जिसमें 7 वर्ग के डॉक्टर्स ने अलग अलग गंभीर बिमारियों का उपचार किया, कैंप के तहत 7 वर्ग ऑर्थोपेडिक्स, सामान्य मेडिसिन, सर्जरी, कैंसर, महिला रोग, पीडियाट्रिक और ईएनटी क्षेत्र के विषय विशेषज्ञ ने लोगो की बीमारी को चिन्हित कर अवश्यक्तानुसार उपचार किया, गंभीर रोगों से पीड़ित लोगों को बेहतर इलाज के लिए रेफेर करने की सलाह दी गयी, वहीं ऐसे रोग जो सामान्य रूप से ठीक हो सकते है उनके लिए निशुल्क दवाई वितरण की गयी।  शिविर में भाग लेने वाले समस्त लाभर्थियों की बीपी, शुगर, ब्लड आदि की जाँच की गयी। सभी प्रकार की स्वास्थ्य सेवा पूर्णतः निःशुल्क प्रदान की गयी। सीएमएचओ रमेश मरावी ने बताया कि उपचार के लिए 3D पद्धति का प्रयोग किया जा रहा है, जिसमें पहले D का अर्थ डाइग्नोसिस से है मतलब जाँच करना, दूसरा D ड्रग्स अर्थात दवाई को प्रदर्शित करता है, जाँच और दवाई के साथ उचित स्वास्थ्य लाभ के लिए उचित भोजन आवश्यक है जोकि तीसरा D डाइट को प्रदर्शित करता है।

शिविर में आये लोगों के लिए पीएचई विभाग ने पेयजल, खाद्य विभाग ने भोजन, महिला बाल विकास ने पोषण जानकारी, आयुष विभाग ने उपचार और जाँच की सुविधा और वन विभाग ने अन्य व्यवस्थाएं उपलब्ध करायी। शिविर में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया और स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया।  शिविर में संयुक्त कलेक्टर सुश्री भारती मेरावी, एसडीएम बजाग श्री आर पी तिवारी, डीएसओ श्री ए के श्रीवास्तव सहित समनापुर, करंजिया, बजाग के सीईओ जनपद, सीडीपीओ, बीआरसी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। इस प्रकार जिला प्रशासन के आपसी समन्वय और जनभागीदारी से शिविर का सफलतापूर्ण आयोजन संपन्न हुआ।

 

 

 

Related Articles

Back to top button