ब्रेकिंग न्यूज़

सबसे पहले शेयर करें

योगेन्द्र मणि वर्मा
जिला:- गौरेला पेण्ड्रा मरवाही


जिला गौरेला पेण्ड्रा मरवाही में गौरेला ब्लॉक के ग्राम झगराखाण्ड में आवास निर्माण में हो रहे काले कारनामे का सच उस वक्त सामने आया जब आवास के निर्माण कार्य को पूरा करवाने का नोटिस ग्राम पंचायत ने हितग्राही मीरा बाई को दी मीरा बाई के प्रधानमंत्री आवास को स्वीकृति वर्ष 2017 में हुआ था जिसका निर्माण कार्य तक पूर्ण नही हुआ है

मध्यभूमि संवाददाता योगेन्द्र मणि वर्मा के द्वारा किये गए पड़ताल में यह पता चला की मीरा बाई के आवास को शारदा आर्मो नामक व्यक्ति के द्वारा ठेके पर बनवाने का जिम्मा दिया गया था शारदा आर्मो के द्वारा बड़ी ही चालाकी से आवास निर्माण के दिशा निर्देश को दर किनार कर आवास के राशियों का आहरण अपने खाते पर कर लिया गया हमारी टीम के गहरी पड़ताल से यह पता चला की आवास निर्माण के प्रथम क़िस्त के भुगतान के बाद द्वितीय किश्त का भुगतान तभी किया जाना था

जब आवास में खिड़की दरवाजे लगे हो और तृतीय किश्त के भुगतान के लिए यह जरूरी है कि दिवालो की छपाई की जा चुकी हो लेकिन शिकायतकर्ता के आवास में न ही खिड़की दरवाजे लगे है और न ही सभी दिवालो की छपाई की गई है इसके बावजूद ठेकेदार ने शिकायतकर्ता के भोलेपन और जनपद पंचायत के भ्रष्ट कर्मचारियों का फायदा उठाकर आवास के राशि को शिकायतकर्ता को धोखा देकर अपने खाते में जमा करा लिया गया

पीड़िता का आरोप है कि आवास गुणवत्ताहीन बनाया गया है उन्होंने कई बार आवास पूर्ण करने की अर्जी शारदा आर्मो से लगाई लेकिन उन्होंने इसे नजर अंदाज किया आरोप है की ये पूर्व में भी कई हितग्राहियों के अधूरे आवास बना कर पुरे पैसे निकल लिए है इसलिए उन्होंने आवास के पुनर्मूल्यांकन और भ्रष्टाचार को लेकर अनुविभागीय अधिकारी गौरेला से उपरोक्त मामले का सारे प्रामाणिक दस्तवेजो के साथ शिकायत किया है दोषियों को दण्डित करते हुए शीघ्र कार्यवाही का आश्वाशन दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *