शहडोल

नए राज्य की मांग:विंध्यवासियों ने भरी हुंकार,अलग प्रदेश के साथ अन्य मांगें शामिल

सबसे पहले शेयर करें

शहडोल, ब्योहारी (विनय द्विवेदी- प्रतिनिधि मध्य भूमि के बोल )

विंध्य प्रदेश की मांग को लेकर लगातार 3 वर्षों से जन अस्मिता यात्रा चलाई जा रही है, जिसकी विशेष बैठक आज शहडोल जिले के ब्योहारी तहशील मे आयोंजित की गई, जिसमे मुख्य रूप से पूर्व विधायक लक्ष्मण तिवारी, एवं जन अस्मिता यात्रा के प्रदेश संयोजक की अगुआई मे कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमे उन्होने बताया की पहले तो विंध्य प्रदेश को एक अलग राज्य का दर्जा दिया जाय,जिसमे अन्य प्रमुख मांगे रखी गई , पृथक विंध्य प्रदेश की मांग, तहशील वार गोवर प्लांट की स्थापना, मध्य प्रदेश मे सैनिक अयोग का गठन, महगाई वा अन्य ज्वलंत मुद्दों पर जल्द निदान हेतु चर्चा, की जाये ताकि स्थानीय उद्योगों मे स्थानीय वेरोजगार नौजवानों को 70% रोजगार दिलाया जाय, साथ ही उन्होंने यह भी कहा की आज देश मे सबसे ज्यादा विंध्य मे ही प्राकृतिक संसाधन मौजूद है, जिसमे, कोयला खदान,पन्ना, मे हिरा खदान, राष्ट्रीय उद्यान, जिसमे संजय रास्टीय उद्यान. कान्हा नेशनल पार्क. बाँधव गढ़ नेशनल पार्क कैसी कई धरोहर है,किन्तु इनका सीधा लाभ विंध्य छेत्र को ना मिलकर अन्य राज्यों को मिल रहा है,अगर हमारा विंध्य प्रदेश अलग होगा तो आने वाले समय मे हमारे विंध्य के सभी नौजवानो को रोजगार के अवसर मिलेंगे और तेजी से विकाश की गति भी बढ़ेगी,इस अवसर पर जन अस्मिता के जिला प्रभारी, अरुण तिवारी, समीम खान,अशोक तिवारी, सहित अन्य सक्रिय कार्यकर्त्ता मौजूद रहे।

पूर्व विधायक, प्रदेश संयोजक लक्ष्मण तिवारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.