ब्रेकिंग न्यूज़

उदय पण्डो गरीब परिवार को की मदद मेडिकल कॉलेज अम्बिकापुर में ईलाज कराने आये हुए थे

सबसे पहले शेयर करें

*उदय पण्डो गरीब परिवार को की मदद मेडिकल कॉलेज अम्बिकापुर में ईलाज कराने आये हुए थे*

*अम्बिकापुर:* मेडिकल कॉलेज अम्बिकापुर में ईलाज कराने आये मरीज नान साय बिरहोर पिता सुंदर साय बिरहोर उम्र 65 वर्ष गांव भीतघरा बगीजा जिला जशपुर का निवासी हैं इनका तबीयत खराब होने पर मेडिकल कॉलेज अम्बिकापुर में भर्ती हुए हैं इनके साथ 6 लोग साथ में बच्चे सहित आये हैं ।

*बिरहोर विशेष पिछड़ी जनजाति अति विलुप्त जनजाति है छत्तीसगढ़ प्रदेश में*

यह समुदाय विशेष पिछड़ी जनजाति के हैं इनका छत्तीसगढ़ प्रदेश में कुल जनसंख्या लगभग तीन हजार है यह जनजाति अति विलुप्त प्रजाति हैं। इनके विकास के लिए जशपुर जिले में बिरहोर अभिकरण का स्थापना किया गया है । इनका आर्थिक स्थिति बहुत खराब है अस्पताल में इलाज कराने के लिए भर्ती कराया गया है सभी परिवार अशिक्षित हैं जिसके कारण इलाज एवं जांच कराने में अस्पताल में इन्हें परेशानी हो रहा था तब समाज सेवी उदय पण्डो को पता चला तब इन सभी से मिलकर समस्या जाना पता चला कि जानकारी के अभाव में इनका जांच कराना बाकी था उदय पण्डो ने इलाज एवं जांच कराने में सहयोग किया।

*गरीब परिवार खाना नहीं खाए थे उदय पण्डो खाने की व्यावस्था की*

सभी परिवार खाना नहीं खाए थे उदय पण्डो के द्वारा अस्पताल के कीचन से सातों लोगों के लिए खाना लाकर खिलाया गया ।

*ग़रीबी के कारण बच्चे बिना कपड़े पहने थे उदय पण्डो ने स्वयं के खर्च से खरीदी कपड़े*

इनके साथ दो छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनके शरीर में पहनने के लिए कपड़ा बिल्कुल नहीं था इन दोनों बच्चों के लिए नया कपड़ा खरीद कर पहनाये सभी परिवारों को मास्क उपलब्ध कराये ।
इनको भरोसा देते हुए कहा गया है कि कुछ बचा हुआ जांच दूसरे दिन कराया जायेगा और कोई भी समस्या होने पर मुझे बताएं। इन सभी विलुप्त बिरहोर संरक्षित विशेष पिछड़ी जनजाति परिवार के बारे में संबंधित वार्ड में ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों को इनके निशुल्क सुविधाओं के बारे में जानकारी दिया गया। इन अनभिज्ञ परिवार को अच्छा से इलाज कराने के बाद गांव भेजने को उदय पण्डो ने कहा इनका सभी प्रकार से सहयोग किया जायेगा। मरीज नानसाय बिरहोर के साथ बिजू राम बिरहोर, परसु राम बिरहोर, उर्मिला बिरहोर, सुनी बाई बिरहोर, जगदीश, अनुज सहित सात लोग हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *