शहडोल

जनपद पंचायत गोहपारू अंतर्गत ग्राम पंचायत सगरा में भारी वित्तीय अनियमितता उजागर सचिव सहित रोजगार सहायक भी घोटाले में संलिप्त

सबसे पहले शेयर करें

शहडोल/गोहपारू 27/06/2021

शुभम् सिंह बिसेन की रिपोर्ट

एक तरफ मध्यप्रदेश शासन ने ग्रामों के विकास के लिए नित नई योजनाएं प्रस्तावित की है,लेकिन जिन जिम्मेदारों के हाथ यह जिम्मेदारी सौंपी गई है वही जिम्मेदार लोग जब शासन के विकास के मंसूबे को ही बट्टा लगाने लगे तो विकास का सपना महज़ सपना बनकर रह जाता है।

एक ऐसा ही माजरा देखने को मिला जनपद पंचायत गोहपारू के अंतर्गत ग्राम पंचायत सगरा में जहां पर सचिव सरपंच एवं रोजगार सहायक की मिलीभगत पर बिलों में लाखों का हेरफेर किया गया। साथ ही ना जाने कितने ही लोगों फर्जी मस्टररोल पर मजदूरी का भी भुगतान कर दिया गया।हद तो तब हो गई जब अचानक से सरपंच और सचिव की अचल संपत्तियों में बाढ़ आनी शुरू हो गई खैर मामला जो भी हो वित्तीय अनियमितता लगभग सारे ग्राम पंचायतों में चरम सीमा पर जा चुकी है।फिर चाहे वह मामले शौचालय निर्माण या फिर आवास योजना से जुड़े हो तो कहीं पुल निर्माण तो कहीं सड़क निर्माण में उपयोग की गई घटिया सामग्री लेकिन शिकायतों के बाद भी मामलों में कोई कमी आती नहीं दिख रही है।

इनका कहना है……

वित्तीय हेरफेर के मामलों के दोषियों को बिल्कुल भी नहीं बक्शा जायेगा,जांच कर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
(सीईओ जनपद पंचायत गोहपारू)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *