ब्रेकिंग न्यूज़

रानी दुर्गावती भारतीय इतिहास की तेज साहस शौर्य और हमारा गर्व है प्रवक्ता कांग्रेस वीरेंद्र सिंह बघेल

सबसे पहले शेयर करें

सूचनादाता:-रितेश गुप्ता
जिला::- गौरेला पेंड्रा मरवाही

*रानी दुर्गावती भारतीय इतिहास की तेज साहस शौर्य और हमारा गर्व है प्रवक्ता कांग्रेस वीरेंद्र सिंह बघेल*

मरवाही ::-जिला प्रवक्ता जीपीएम कांग्रेस वीरेंद्र सिंह बघेल ने कहाँ की रानी दुर्गावती सुन्दर, सुशील, विनम्र, योग्य एवं साहसी लड़की थी. महारानी दुर्गावती कालिंजर के राजा कीर्तिसिंह चंदेल की एकमात्र संतान थीं। बांदा जिले के कालिंजर किले में 1524 ईसवी की दुर्गाष्टमी पर जन्म के कारण उनका नाम दुर्गावती रखा गया। नाम के अनुरूप ही तेज, साहस, शौर्य और सुन्दरता के कारण इनकी प्रसिद्धि सब ओर फैल गयी !

*रानी दुर्गावती ने लगभग 16 वर्षो तक संरक्षिका के रूप में शासन किया. भारत के इतिहास में रानी दुर्गावती और चाँदबीबी ही ऐसी वीर महिलाएं थी जिन्होंने अकबर की शक्तिशाली सेना का सामना किया तथा मुगलों के राज्य विस्तार को रोका. अकबर ने अपने शासन काल में बहुत सी लड़ाईयां लड़ी किन्तु गढ़मंडल के युद्ध ने मुग़ल सम्राट के दांत खट्टे कर दिए थे !*

*रानी दुर्गावती में अनेक गुण थे. वीर और साहसी होने के साथ ही वे त्याग और ममता की मूर्ति थी. राजघराने में रहते हुए भी उन्होंने बहुत सादा जीवन व्यतीत किया. राज्य के कार्य देखने के बाद वे अपना समय पूजा – पाठ और धार्मिक कार्यो में व्यतीत करती थी.।।*
*भारतीय इतिहास में दुर्गावती लक्ष्मी बाई जैसे वीरांगना महिलाओं को हमेशा याद करेगी*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *