उमरिया

सुस्त निर्माणाधीन सड़क में पाइप लाइन कनेक्शन नस्तेनाबूत

सबसे पहले शेयर करें

कच्छप गति से हो रहे सड़क निर्माण ने क़ई नल कनेक्शन तोड़े

*ठेकेदार ने बना दिया सामुदायिक भवन को खनिज सामग्री का स्टोरेज*

उमरिया से अनुज सेन की रिपोर्ट

उमरिया । मुख्यालय स्थित नए बस स्टैंड से रमपुरी होते हुवे घँग़री सड़क पिछले 8 से 10 माह के बाद भी निर्माणाधीन है,इस मार्ग से सटे रहवासी निर्माण में लापरवाही और कच्छप गति से हो रहे कार्य से पिछले क़ई माह से परेशान है। मंगलवार की सुबह जेसीबी मशीन से नाली निर्माण के लिए किये जा रहे गड्ढे से क़ई नल कनेक्शन क्षतिग्रस्त हो गए है,जिसमे स्थानीय शंभु तिवारी,जगदीश जायसवाल,अनिल मिश्र,इकबाल खान,शौकत अली,जगदीश विश्वकर्मा, असलम खान,रईस खान,ऋषभ पांडेय,मो आज़ाद सहित दर्जनों रहवासी प्रभावित बताए जा रहे है,वही बिना प्लानिंग नाली के लिए किए गए गड्ढे से क़ई परिवारों की निकासी पर भी सवाल उठ गया है,उनका घर से निकलना भी दूभर हो गया है।इस बाबत स्थानीय रहवासियों ने कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव से शिकायत भी की है।निर्माण के दौरान नल कनेक्शन के क्षतिग्रस्त होने पर सीएमओ शशि कपूर गणपाले ने कहा है कि नुकसानी की राशि क्षतिपूर्ती के रूप में ठेकेदार से वसूली जायेगी,साथ ही उन्होंने कहा कि रहवासियों को पानी की माकूल व्यवस्था के लिए क्षतिग्रस्त नल कनेक्शन को त्वरित मरम्मत कराया जायेगा।

*महीनों से मार्ग पूर्णतः बन्द,आवागमन प्रभावित*

वार्ड 3 रमपुरी स्थित शासकीय सामुदायिक भवन में सम्बंधित ठेकेदार ने खनिज सामग्री का स्टोरेज भी किया हुवा है,जिसे किसी भी द्रष्टिकोण से उचित नही कहा जा सकता ,सवाल इस बात का है कि बिना अनुमति सम्बंधित ठेकेदार ने किसकी सह पर सामुदायिक भवन को खनिज सामग्री का स्टोरेज बनाया है।इस मामले में सीएमओ शशि कपूर गणपाले की माने तो इस बाबत स्थानीय जन द्वारा शिकायत आई थी,जिसके परिपेक्ष्य में सम्बंधित ठेकेदार को खनिज सामग्री अन्यत्र रखने निर्देशित किया गया है।स्थानीय लोगो की माने तो करोड़ों की लागत से किये जा रहे सड़क निर्माण को अनुभवहीन पेटी ठेकेदार को दे दिया गया है,जिस वजह से भगवान भरोसे किये जा रहे सड़क निर्माण में अनावश्यक देरी हो रही है,वही ग्रामीण क्षत्रों को मुख्यालय से जोड़ रही इस निर्माणाधीन सड़क की गुणवत्ता का भी अभाव बताया जा रहा है।स्थानीय लोगों की मांग है कि क़ई माह से बन्द सड़क में निर्माण कार्य के दौरान ऐसी व्यवस्था बनानी चाहिए जिससे स्थानीय रहवासियों के आवागमन बिल्कुल प्रभावित न हो, विदित हो कि उक्त मार्ग में पिछले क़ई माह से आवागमन पूर्णतः बन्द है,साथ ही स्थानीय रहवासी भी अपने वाहनों का उपयोग न कर पैदल ही बाजार के ज़रूरी काम निपटा रहे है।इसके अलावा मार्ग पूर्णतः बन्द होने की वजह से मरीजों को भी अस्पताल लाने ले जाने में मरीज़ों को खासा परेशानी हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *