मध्यप्रदेश राष्ट्रीय

CM कोविड 19 अनुकंपा नियुक्ति याेजना लागू:नौकरी पाने वाले को परिवार का भरण-पोषण करने के लिए शपथ पत्र देना होगा, 1 मार्च से 30 जून तक लागू रहेगी योजना

सबसे पहले शेयर करें

मध्यप्रदेश में कोविड से मरने वाले कर्मचारियों के लिए सरकार ने मुख्यमंत्री कोविड-19 योजना लागू कर दी है। सामान्य प्रशासन विभाग ने इस संबंध में शुक्रवार को आदेश जारी कर दिया। इसके तहत कोरोना से मरने वाले कर्मचारियों के परिवार वालों में से किसी एक को समान पद पर नियुक्ति दी जाएगी। इससे पहले मृतक कर्मचारी के परिवार को अनुकंपा नियुक्ति लेने वाले का नाम शपथ पत्र में देना होगा। साथ ही, नौकरी पाने वाले को एक अलग शपथ पत्र देना होगा कि वह परिवार के अन्य सदस्यों का भरण-पोषण करेगा।

नियमानुसार जिस परिवार को कोरोना योद्धा योजना के तहत 50 लाख रुपए प्राप्त करने की पात्रता है, उन्हें योजना का लाभ नहीं मिलेगा। योजना को शिवराज कैबिनेट ने 25 मई को इस योजना को कुछ संशोधन के साथ मंजूरी दी थी। यह योजना 1 मार्च 2021 से 30 जून 2021 तक लागू रहेगी। योजना का लाभ सभी नियमित, स्थाई कर्मचारी, कार्यभारित और आकस्मिक निधि से वेतन पाने वाले, दैनिक वेतन भोगी, संविदा, कलेक्टर दर पर कार्यरत कर्मचारियों को मिलेगा।

सरकार ने स्पष्ट किया है, अगर शासकीय सेवक योजनावधि में कोविड पॉजिटिव था, लेकिन उसकी मृत्यु योजनावधि समाप्त होने के बाद 60 दिन के भीतर हो जाती है, तब भी उसके आश्रित को अनुकंपा नियुक्ति दी जाएगी।

यह होगी प्रक्रिया

  • मृतक कर्मचारी जिस कार्यालय में कार्यरत था, उसी कार्यालय का प्रमुख आवेदन देगा।
  • मृत्यु दिनांक से 4 माह में आवेदन आवश्यक होगा। अपरिहार्य स्थिति में विलंब के कारण से सक्षम अधिकारी संतुष्ट है, तो 3 माह का अतिरिक्त समय मान्य होगा।
  • यदि विभाग में समतुल्य पद रिक्त नहीं है, तो यह प्रकरण राज्य स्तरीय कमेटी में आएगा।
  • मुख्य सचिव की अध्यक्षता वाली कमेटी ऐसे मामलों में अन्य विभाग में नियुक्ति देने का निर्णय लेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *